PoK में पाकिस्तानी सेना और सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, ज्यादती का विरोध

पाकिस्तानी सेना और सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से बौखलाया पाकिस्तान तमाम देशों से इस बारे में मदद मांगकर थक चुका है। इसी बीच पाकिस्तानी सेना और सरकार की ज्यादती के खिलाफ PoK में एक बार फिर लोग सड़कों पर उतरे हैं। पीओके के तत्तापानी इलाके में आज पाकिस्तानी सरकार, सेना के खिलाफ जमकर प्रदर्शन हुए। लोगों ने पाकिस्तानी सेना और सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए ‘पाकिस्तानी फौजियों छोड़ दो कश्मीर को’ और ‘ये सब गुंडागर्दी है, इसके पीछे वर्दी है’ जैसे नारे लगाए।

जम्मू-कश्मीर: सोपोर में लश्कर-ए-तैयबा के 8 ग्राउंड वर्कर गिरफ्तार, जारी है पूछताछ

ये लोग पाकिस्तानी हुक्मरानों की बर्बरता के सबसे बड़े सबूत हैं। इनके हक को पाकिस्तानी आर्मी ने कभी नहीं दिया, इनके साथ बहुत ही बुरा बर्ताव किया गया है। पाकिस्तान के सरकारी बंदूक धारियों ने इन पर जुल्म ढाए हैं। इस प्रदर्शन का वीडियो भी सामने आया है। इसमें साफ देखा जा सकता है कि बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी मौजूद हैं, जिन्हें फोर्स हटाने की कोशिश कर रही है। जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर इमरान खान ने हर हथकंडा अपना लिया है लेकिन उन्हें कहीं से भी किसी का सपोर्ट नहीं मिल रहा और अब तो इमरान को ये डर भी सता रहा है कि कहीं पीओके पाकिस्तान के हाथ से न निकल जाए।

पानी में पैराशूट लेकर उतरने से लेकर पहाड़ों पर बिना सहारे चढ़ने तक, इंडियन आर्मी के इस यूनिट के आगे सभी हैं फेल

पाकिस्तानी सेना पीओके के आम लोगों को एलओसी की तरफ धकेल रही है ताकि भारतीय सेना की गोलीबारी में आम नागरिक मारे जाएं और भारतीय‌ सेना का अंतर्राष्ट्रीय‌ स्तर पर नाम खराब किया जा‌ सके। 6 सितंबर को एलओसी पर नौशेरा सेक्टर पर करीब आधा दर्जन पाकिस्तानी नागरिक एलओसी के करीब 150 मीटर के दायरे तक पहुंच गए। इस प्रदर्शन से एक बार फिर साफ हो गया कि पाकिस्तान कश्मीर को लेकर भारत पर झूठे आरोप लगाता है लेकिन पीओके में अपनी फौज के जुल्म पर आंखें बंद कर लेता है।

पढ़ें: UNHRC में भारत और पाकिस्तान होंगे आमने-सामने, इंडिया करेगा पाक के आतंकी चेहरे को बेनकाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here