झारखंड के दुमका में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में SSB का एक जवान शहीद, 4 जख्मी

encounter with Naxals in Dumka, encounter with Naxals, encounter between naxalites and security forces, 1 jawan has lost his life in encounter with Naxals, 4 others are injured encounter with Naxals, Dumka, encounter in Dumka, encounter in Jharkhand, नक्सल के साथ दुमका में एनकाउंटर, नक्सल के साथ मुठभेड़, नक्सल के साथ एनकाउंटर में एक जवान शहीद, नक्सल के साथ एनकाउंटर में चार जवान घायल, दुमका में एनकाउंटर, दुमका, झारखंड में नक्सलियों के साथ एनकाउंटर, एनकाउंटर, मुठभेड़, सिर्फ सच, Sirf Sach, Trending now, मेरा नजरिया, Cutting Edge, कबीर चौरा, सच के सिपाही, Brave Hearts

झारखंड के नक्सल प्रभावित दुमका जिले की सरजमीन एकबार फिर नक्सल आतंक से लाल हुई है। रविवार सुबह नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़ में एसएसबी के 35वीं बटालियन का एक जवान शहीद हो गया जबकि 4 जख्मी हो गए। जख्मी जवानों में से एक की हालत गंभीर है जबकि बाकी तीन को मामूली चोटें आई हैं। गंभीर रूप से घायल जवान को एयरलिफ्ट कर इलाज के लिए रांची भेज दिया गया है।

दुमका के एसपी वाई एस रमेश ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि दुमका के रानीश्वर थाना क्षेत्र के कठलिया में करीब 15 नक्सलियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद जिला पुलिस और एसएसबी ने जॉइंट ऑपरेशन के तहत कैंप कर रहे नक्सलियों की घेरेबंदी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों के पहुंचने पर सुबह करीब 3:30 बजे नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी, जिसके बाद सुरक्षाबलों की तरफ से भी जवाई फायरिंग की गई। इस मुठभेड़ में करीब 5 नक्सलियों के घायल होने की खबर है। वहीं, 5 जवान भी घायल हो गए। सभी जवानों को तत्काल सदर अस्पताल ले जाया गया जहां असम के रहने वाले जवान नीरज छेत्री ने दम तोड़ दिया। जबकि गंभीर रूप से घायल राजेश को आगे के इलाज के लिए रांची भेज दिया गया। तीन जवानों का इलाज सदर अस्पताल में ही चल रहा है, जिनके नाम हैं-  करण कुमार, सतीश गुज्जर और सोनू कुमार।

एसपी रमेश ने बताया कि यह मुठभेड़ ताला दा के मारे जाने के बाद बचे नक्सलियों में से विजय और निशिकांत के दस्ते के साथ हुई। ये दस्ता करीब 3-4 दिनों से वहीं पर कैंप कर रहा था। सुरक्षाबलों की कार्रवाई में नक्सलियों के दस्ते को भी काफी नुकसान पहुंचा है। फिलहाल, सुरक्षाबल तलाशी अभियान में जुटे हैं।

इस मुठभेड़ से 5 दिन पहले ही झारखंड के सराकेला में सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर आईईडी ब्लास्ट किया था। इस ब्लास्ट में 209 कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस के 26 जवान घायल हुए थे।

पढ़ेंः क्रांति के नाम हत्यारा बना डाला, अक्ल ठिकाने आई तो डाल दिया हथियार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here