मिराज 2000 क्रैश में गाजियाबाद के समीर अब्रोल भी शहीद

mig-2000 crash; squadron leader samir abrol martyr

एक मार्च को बेंगलुरु एयरपोर्ट पर मिराज 2000 की दुर्घटनाग्रस्‍त होने के कारण स्क्वाड्रन लीडर समीर अब्रोल बुरी तरह घायल हो गए थे। उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था जहां उन्‍होंने अंतिम सांसें लीं।  इस हादसे में देहरादून के रहने वाले स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी भी शहीद हो गए थे। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड का मिराज 2000 ट्रेनर फाइटर एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में एयरक्राफ्ट में सवार दोनों पायलटों की मौत हो गई थी। यह हादसा 1 मार्च को बेंलगुरु में HAL एयरपोर्ट के पास हुआ था। हादसे के वक्त दोनों पायलट पैराशूट की मदद से विमान से कूद गए थे, इसमें एक की विमान के मलबे पर गिरने से मौत हो गई, जबकि दूसरे पायलट ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

स्क्वाडर्न लीडर समीर अब्रोल की पत्नी गरिमा इस हादसे से पूरी तरह से टूट चुकी हैं। सोशल मीडिया पर इन्होंने बेहद भावुक पोस्ट भी लिखा जिसमें अपनी पति की बहादुरी का फख्र करती हैं और साथ ही साथ सिस्टम में मौजूद भ्रष्टाचार पर भी सवालिया निशान लगाया है। गरिमा अब्रोल ने इंस्टाग्राम पर अपने पति की बहादुरी और सिस्टम में मौजूद भ्रष्टाचार पर सवाल उठाते हुए एक कविता लिखी। गरिमा ने लिखा, “एक और जवान शहीद हो गया, जब वो आसमान से जमीन पर गिरा। टेस्ट पायलट की जॉब अन-फॉरगिविंग होती है। मुझे अपने पति पर गर्व है, हमेशा लड़ते रहना बैटमैन। जय हिंद”

इसे भी पढ़ें: जन्मदिन के दिन ही दुनिया को अलविदा कह गया गोल्डन-ब्वॉय

गरिमा ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, “मेरे पति को भारतीय होने पर गर्व था। मुझे उन्हें सुबह की चाय पिलाकर सिर उठाकर देश सेवा पर भेजना अच्छा लगता था। हर सैनिक के पत्नी के जीवन का सबसे बड़ा डर यही होता है कि उसके पति को जंग के मोर्च पर बुला न लिया जाए। मुझे भी यह डर सताता था। मैं कितनी बार, ऐसा बुरा सपना देखकर रोते हुए उठ गई। लेकिन समीर मुझे सांत्वना देते थे और कहते थे कि उनके काम का यही सर्वोच्च उद्देश्य है। आपको झकझोरने के लिए कितने पायलटों को अपनी जान की कुर्बानी देगी होगी। आखिर आपको कब इस बात का एहसास होगा कि कुछ सिस्टम में वाकई खराब है।”

शहीद समीर अब्रोल का परिवार ग़ाज़ियाबाद में रहता है। 5 फरवरी को समीर के परिवार से रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने जाकर मुलाकात की एवं परिवार को इस दुःख की घड़ी में सांत्वना दिया। साथ ही इस दुर्घटना की जांच का आश्वासन भी दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here